February 2, 2023
Read Time:2 Minute, 30 Second

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की जांच में बड़ा खुलासा है कि लॉरेन्स बिश्नोई और उसका गैंग आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिदीन के आतंकियों के मोबाइल का इस्तेमाल कर रहा था. जांच में पता चला है कि लॉरेन्स बिश्नोई तिहाड़ की जेल नंबर 8 में बंद था जहां से वो अपने गैंग को जेल से ऑपरेट करने के लिए आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिदीन के 9643XXXXXX  का इस्तेमाल कर रहा था. इसी साल मार्च महीने में जांच एजेंसियों ने इस नम्बर को इंटरसेप्ट किया था.

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल अपनी जानकारी को पुख्ता करने के लिए लॉरेन्स बिश्नोई, संपत नेहरा, बिंटू उर्फ मिंटू और दीपक उर्फ टीनू के वॉइस सैंपल की जांच करवाना चाहती है. वॉइस सैंपल की जांच के लिए दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पटियाला हाउस कोर्ट में अर्जी दाखिल की है.

पंजाब पुलिस की कस्टडी में है बिशनोई
लॉरेन्स बिश्नोई, संपत नेहरा समेत 20 गैंगस्टर्स के खिलाफ UAPA के तहत चार्जशीट दायर हो चुकी है. फिलहाल लॉरेन्स बिश्नोई सिद्धू मूसा वाला मर्डर केस में पंजाब पुलिस की कस्टडी में है. बता दें कि शुभदीप सिंह सिद्धू, जिन्हें सिद्धू मूसेवाला के नाम से जाना जाता था, की पंजाब के मानसा जिले में 29 मई को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इससे एक दिन पहले पंजाब सरकार ने गायक और 423 लोगों के सुरक्षा कवर में कटौती की थी. 

पंजाब पुलिस के एडीजीपी प्रमोद बान ने 23 जून को दावा किया था कि गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई ने स्वीकार किया है कि वह पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या का मास्टरमाइंड था और पिछले अगस्त से इसकी योजना बना रहा था.

About Post Author

Jonas

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %